PM Kaise Bane : जानिए प्रधानमंत्री बनने की पूरी जानकारी

PM Kaise Bane – दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम बताएंगे कि प्रधानमंत्री कैसे बने? दोस्तों बचपन में निबंध आता था आप प्रधानमंत्री बन गए तो क्या क्या करेंगे, ऐसा निबंध बचपन में आपने भी लिखा होगा, लेकिन क्या असल में आपको पता है कि प्रधानमंत्री कैसे बनते हैं। इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप जरूर जान जाएंगे कि PM Kaise Bane, मैं यह नहीं बोल रहा हूं कि मैं इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप प्रधानमंत्री बन जाएंगे लेकिन दोस्तों इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप प्रधानमंत्री कैसे बने इसके बारे में जरूर जान जाएंगे। दोस्तों अगर आप जानना चाहते हैं प्रधानमंत्री कैसे बनते हैं तो बने रहे हमारे इस आर्टिकल में अंत तक 

PM Kaise Bane
PM Kaise Bane

देश का प्रधानमंत्री बनने के लिए सबसे पहले आपको ही पॉपुलर नेता बनना पड़ेगा। आज जिस भी विचारधारा से प्रेरित हो, वह पार्टी ज्वाइन कर सकते हैं, पार्टी ज्वाइन करते समय ध्यान रखें कि वह पार्टी परिवारवाद को फॉलो नहीं करती हो, क्योंकि अगर आप कोई ऐसी पार्टी ज्वाइन करेंगे तो, उस पोस्ट पर नहीं पहुंच पाएंगे, इसलिए केडर बेस्ड पार्टी ही ज्वाइन कीजिए। दोस्तों आप चाहे तो अपनी पार्टी भी बना सकते हैं और लोकसभा का चुनाव लड़ सकते है, नीचे मैंने इस पॉइंट पर प्रकाश डाला है तो आइए देखते है हम जैसे आम लोग प्रधानमंत्री बनने की शुरुआत कैसे करें।

जरूर पढे –

प्रधानमन्त्री क्या होता है

दोस्तों, पीएम मतलब प्रधानमंत्री होता है, इसको इंग्लिश में prime minister कहते है। भारत के प्रधानमंत्री भारत सरकार की कार्यकारी शाखा (executive branch) का प्रमुख होता है। उनकी स्थिति भारत के राष्ट्रपति से अलग होती है, जो राष्ट्र के प्रमुख हैं। अधिकांश कार्यकारी शक्तियों का उपयोग प्रधानमंत्री द्वारा किया जाता है। वह राष्ट्रपति के सलाहकार के रूप में कार्य करता है और मंत्रिपरिषद का नेता होता है। राष्ट्रपति भारत के प्रधानमंत्री को नियुक्त करता है उनकी सलाह से मंत्रिपरिषद नियुक्त करता है। प्रधानमंत्री लोकसभा और राज्यसभा का सदस्य हो सकता है।

PM Full Form

PM का Full Form Prime Minister होता है। इस पद को हिन्दी मे हम प्रधानमंत्री कहते है।

भारत मे प्रधानमंत्री सबसे उचा पद होता है। इस पद पर काम करने वाला व्यक्ति देश मे किसी भी तरह के कानून बनने के फैसले को बाकी नेता और जनता के आगे रखता है। अगर आप प्रधानमंत्री या Prime Minister की नौकरी करना चाहते है तो नीचे दी गई जानकारियों को पढे।

प्रधानमन्त्री क्या काम करते है

प्रधानमंत्री अपने विवेका अनुसार मंत्रिमंडल का गठन करता है इसके लिए वह अपने अनुसार सूची बनाकर देश के राष्ट्रपति के समक्ष उसे प्रस्तुत करता है। किस सदस्य को कौन सा मंत्रालय आवंटित करना है आवंटन पर बदलाव में प्रधानमंत्री ही निर्णय लेता है, मंत्रिमंडल और परिषद का अध्यक्ष प्रधानमंत्री ही होता है और सभी फैसलों पर प्रधानमंत्री का प्रभाव होता है। 

प्रधानमंत्री की सलाह से ही मंत्रिमंडल के मंत्री को नियुक्त करता है साथ ही बर्खास्त भी कर सकता है। प्रधानमंत्री अपने मंत्रिमंडल को अनुशासित और निर्देशित करता है। प्रधानमंत्री अपने इस्तीफे या त्यागपत्र के साथ राष्ट्रपति को लोकसभा भंग करने की सलाह दे सकता है क्योंकि प्रधानमंत्री निर्वाचित होकर ही संसद पहुंचे हैं तो प्रधानमंत्री सहित पूरा मंत्रिमंडल जनता की प्रति जवाबदेही है। 

Power of PM – प्रधानमन्त्री की शक्तियां

प्रधानमंत्री के पास निम्नलिखित पावर होती है: _

  1. प्रधानमंत्री को council of minister चुनने का अधिकार होता है। 
  2. कौंसिल ऑफ मिनिस्टर बनने के बाद प्रधानमंत्री ही डिसाइड करते हैं कि किस मिनिस्टर को कौन सा डिपार्टमेंट मिलेगा और उसको वह कभी भी चेंज कर सकते हैं। 
  3. Council ऑफ मिनिस्टर के प्रमुख होने के कारण प्रधानमंत्री किसी भी मिनिस्टर के सुझाव को अपने द्वारा चेंज कर सकते है।
  4. प्रधानमंत्री किसी भी मिनिस्टर को रिजाइन करने के लिए राष्ट्रपति को सिफारिश दे सकते हैं। 
  5. प्रधानमंत्री राष्ट्रपति को लोकसभा बंद कर नए सिरे से चुनाव करने के लिए भी आदेश दे सकते हैं। 
  6. यदि किसी कारणवश यदि प्रधानमंत्री की मौत हो जाती है तो तो बाकी मिनिस्टर्स कोई काम नहीं कर सकते हैं मतलब प्रधानमंत्री के मौत के साथ ही कौंसिल ऑफ मिनिस्टर की कैबिनेट अपने आप से खत्म हो जाएगी। 

Eligibility for PM – प्रधानमंत्री बनने की योग्यता

देश के प्रधानमंत्री बनने से पहले उस व्यक्ति को निम्न चरणों को पूरा करना पड़ेगा: _

  • वह व्यक्ति भारत का नागरिक हो
  • वोटर लिस्ट में व्यक्ति का नाम हो
  • कम से कम 25 वर्ष की आयु रखता हो
  • दोनों सदनों में किसी एक सदन का सदस्य हो
  • यदि सदस्य नहीं है तो नियुक्ति के बाद 6 महीने के अंदर किसी एक सदन के सदस्यता अनिवार्य रूप से प्राप्त करें। 

प्रधानमंत्री की चुनाव कैसे होता है

हमारे देश में प्रधानमंत्री का चुनाव डायरेक्ट नहीं होता है यानी कि हम सीधा प्रधानमंत्री को नहीं चुनते हैं। आप भी जानना चाह रहे होंगे कि आखिर प्रधानमंत्री का चुनाव कैसे होता है तो आइए आपको नीचे विस्तार से बताते हैं।

हमारे देश में प्रधानमंत्री का चुनाव लोकसभा चुनाव के परिणाम के आधार पर किया जाता है।हर 5 साल के बाद देश में लोकसभा का चुनाव होता है जिसमें की देश की राष्ट्रीय पार्टियां भाग लेती है। राष्ट्रीय पाटिया जो भी लोकसभा चुनाव में भाग लेती है वह अपनी पार्टी की सबसे प्रसिद्ध नेता को प्रधानमंत्री पद के लिए घोषित करती है। लोकसभा चुनाव में जिस भी पार्टी के पास बहुमत के सांसद जो कि है 273 होती है उस पार्टी के नेता को राष्ट्रपति के द्वारा प्रधानमंत्री का शपथ दिलाया जाता है।

PM Kaise Bane – प्रधानमंत्री कैसे बने

भारत का प्रधानमंत्री बनना आसान बात नहीं है, अगर आप pm बनना चाहते है तो सबसे पहले आपको कोई राजनेटिक पार्टी से जुड़ना होगा और आपकी उम्र काम से काम 25 वर्ष होनी चाहिए। इसके बाद राज्य सभा या लोग सभा का आपको सदस्य बनना होगा इसके लिए आपको अपनी चुनी हुई पार्टी से चुनाव लड़ना होगा।

जब आप किसी छेत्र का चुनाव जीत जाते है और आप दोनों मे से किसी एक सदन का सदस्य बन जाते है तो आप आम चुनाव मे खड़े हो सकते है। इसके बाद आपके पार्टी के सभी विधायक अपने निर्वाचन छेत्र से चुनाव लड़ेंगे और आप भी अपने चुने हुए किसी छेत्र से चुनाव लड़ेंगे, अगर आपकी चुनी हुई पार्टी के मेम्बर सबसे ज्यादा वोट इखट्टा कर पते है तो पार्टी की बैठक होगी और पार्टी मे से किसी एक मुख्य सदस्य को पार्टी मुखिया की तरफ से pm के पद पर नयुक्त कर लिया जाएगा।

इसे आप ऐसे समझ सकते है की वर्तमान समय मे BJP Party के नेता अलग अलग जगह से चुनाव लड़ते है और यह पार्टी सबसे ज्यादा वोट इखट्टा करती है और उसके बाद पार्टी के मुखिया अमित शाह, के द्वारा पार्टी के प्रचलित नेता नरेंद्र मोदी को PM के पद पर चुन लिया जाता है। इस तरह पार्टी के सभी नेता वोट इखट्टा करते है और उसके बाद पार्टी के सभी लोग आपस मे चर्चा कर के किसी एक को प्रधानमंत्री बना देते है और उसके बाद पार्टी के अन्य नेता को भी कुछ पद दिया जाता है।

प्रधानमंत्री की सैलरी

प्रधानमंत्री की नियुक्ति के बाद प्रधानमंत्री को एक निश्चित वेतन और सुख सुविधा दिया जाता है। basic सैलरी के रूप में प्रधानमंत्री को 50 हजार निर्वाचित क्षेत्र बता रुपैया 45 हजार रोजाना रुपैया 2 हजार का भता व अन्य रूप से रुपैया 3 हजार का भत्ता निर्धारित किया जाता है , इस तरह सब मिल कर ₹280,000 प्रतिमाह प्रधानमंत्री को वेतन के रूप में दिए जाते हैं। फिर भी हम पूर्ण रूप से वेतन की पुष्टि नहीं कर सकते। 

प्रधानंमत्री बनने के अन्य फायदे

दोस्तों वैसे तो प्रधानमंत्री एक खुद में ही बहुत बड़ा और देश का सबसे सर्वोच्च पद है जिस पर बैठने वाला व्यक्ति के पास देश में सबसे अधिक शक्तियां होती है। आइए आपको कुछ प्रमुख फायदे बताते हैं जो कि एक प्रधानमंत्री बनने के बाद मिलता है।

  • देश में वास्तविक रूप में सबसे ज्यादा पावर यानी कि सबसे ज्यादा शक्तियां प्रधानमंत्री के पास होती है।
  • प्रधानमंत्री के पास हमेशा सबसे उच्च प्रकार की सुरक्षा होती है और सबसे टॉप लेवल के कमांडर होते हैं जो प्रधानमंत्री की सुरक्षा में हमेशा लगे रहते हैं। प्रधानमंत्री की सुरक्षा में SPG (Special protection guard) के जवान होते है।
  • प्रधानमंत्री को रहने के लिए एक बहुत ही आलीशान सा घर मिलता है।
  • एक प्रधानमंत्री पूरे देश में प्रसिद्ध होता है और पूरे देश में इसकी लोकप्रियता होती है।

PM Kaise Bane (FAQ)

Q. प्रधानमन्त्री की सैलरी कितनी होती है?

PM की सैलरी लगभग 1.6 लाख प्रतिमाह होती है।

Q. प्रधानमंत्री की सुरक्षा कौन करता है?

 PM Modi को SPG (Special protection guard) Commando की सुरक्षा दी गई है।

Conclusion

दोस्तों आज का हमारा यह आर्टिकल प्रधानमंत्री कैसे बने (PM Kaise Bane) विषय पर केंद्रित था। आज की इस आर्टिकल में हमने आपको प्रधानमंत्री से जुड़े बहुत सारी जानकारियां देने का प्रयास किया। इस आर्टिकल में हमने आपको बताया कि आप प्रधानमंत्री कैसे बन सकते है और प्रधानमंत्री के पास कौन-कौन सी पावर होती है प्रधानमंत्री का क्या काम होता है और प्रधानमंत्री का चुनाव कैसे होता है।

हमें पूरी उम्मीद है कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा और आप इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करेंगे यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हो तो कमेंट करना ना भूलें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top