सरकारी और प्राइवेट नौकरी के बीच अंतर – Jobkijankari

Sarkari aur Private Naukri Ke Bich Antar – आप सभी के उम्मीद करता हूं आप सभी अच्छे होंगे। दोस्तों हमारे देश में हर साल करोड़ों बच्चे सरकारी नौकरी की तैयारी करते हैं लेकिन इनमें से कुछ ही बच्चों को सरकारी नौकरी मिल पाता है और कुछ ही बच्चे सरकारी नौकरी का एग्जाम क्वालीफाई कर पाते हैं। सरकारी नौकरी में मिलने वाली सुविधाएं जैसे कि मेडिकल सुविधाएं परिवार के लिए रहने का घर रिटायरमेंट के बाद पेंशन इन सारी सुविधाओं के कारण आज भी बहुत सारे लोग सरकारी नौकरी की तरफ आकर्षित होते हैं। वही देश में आजकल धीरे-धीरे प्राइवेट नौकरी भी प्रसिद्ध होते जा रही है और आज अधिकतर युवा प्राइवेट नौकरी की ओर बढ़ रहे हैं। एक रिसर्च के अनुसार यह पता चलता है कि देश के साथ 30% युवा सरकारी नौकरी में रुचि रखते हैं और 43% प्राइवेट नौकरी में। आज का हमारा यह आर्टिकल इसी विषय पर केंद्रित है जिसमें हम सरकारी और प्राइवेट नौकरी के बीच अंतर (Sarkari aur Private Naukri Ke Bich Antar) जानेंगे और यह भी जानेंगे कि सरकारी और प्राइवेट नौकरी में कौन अच्छा होता है।

government job vs private job

स्वागत करता हूं दोस्तों आप सभी का आज के हमारे इस आर्टिकल में जिसका विषय है सरकारी और प्राइवेट नौकरी के बीच अंतर। आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि सरकारी नौकरी के फायदे क्या क्या है और प्राइवेट नौकरी के फायदे क्या क्या है। यदि आप इस बारे में जानना चाहते हैं तो बने रहिए अंत तक हमारे इस आर्टिकल के साथ जिसमें हम आपको इस विषय के बारे में पूरी विस्तार से जानकारी देंगे।

सरकारी नौकरी क्या है? What is Sarkari Naukri?

हमारे देश में हर साल सरकार के द्वारा बहुत सारी पदों के लिए वैकेंसी या निकाली जाती है जिसे हम सरकारी नौकरी के रूप में जानते हैं। सरकार के अंतर्गत बहुत सारे अधिकारी आते हैं जो देश के विधि विधान को चलाने में सरकार की मदद करते हैं। हमारे देश में सरकारी नौकरियां बहुत प्रकार की है एक छोटे से कर्मचारी स्तर से लेकर बड़े अधिकारी आईएएस आईपीएस यह सभी सरकारी नौकरी के तहत आते हैं। हमारी भारतीय सेना हमारे पुलिस के जवान और भी बहुत सारे पद सरकारी नौकरी के तहत आती है। 

देश में सरकारी पदों पर नियुक्तियां सरकार के द्वारा अलग-अलग लेवल की परीक्षाओं के द्वारा की जाती है। हर साल देश में सभी पदों के लिए वैकेंसी निकलती है जिसे अलग-अलग स्तर पर परीक्षा लेकर लोगों को इस में भर्ती किया जाता है। आज भी काफी युवा सरकारी नौकरी में रुचि रखते हैं और Sarkari Naukri में मिलने वाली सुविधाओं के कारण और सम्मान के कारण लोग सरकारी नौकरी की तरफ आकर्षित होते हैं। सरकारी नौकरी की चाह रखने वाले युवा सरकारी परीक्षाओं की तैयारी करते हैं और उन्हें क्वालीफाई करने के बाद ही उनको भर्ती किया जाता है।

प्राइवेट नौकरी क्या है? What is Private Job?

हमारे देश में बहुत सारी ऐसी कंपनियां है जिसे सरकार के द्वारा कंट्रोल नहीं किया जाता है ऐसी कंपनियों को हम प्राइवेट कंपनी कहते हैं। प्राइवेट कंपनी कोई भी इंसान खोल सकता है इस पर सरकार का कंट्रोल नहीं होता है। प्राइवेट कंपनियों को चलाने के लिए इस पर कर्मचारियों को नियुक्त किया जाता है। हमारे देश में ऐसे लाखों प्राइवेट कंपनियां है जो करोड़ों लोगों को रोजगार देती है।

प्राइवेट कंपनियां में लोगो की जॉब सिक्योरिटी नहीं होती है इसमें कंपनी के मालिक या कंपनी के मैनेजर कभी भी उनको निकाल सकते हैं। लगी प्राइवेट कंपनियों के एक अच्छी बात यह है कि इसमें लोगों को उनकी काबिलियत के अनुसार और उनके स्किल के अनुसार काम मिल जाता है और लोग जब चाहे अपने सैलरी बढ़ाने के लिए कंपनी बदल सकते हैं। प्राइवेट कंपनियों में प्रमोशन भी सरकारी नौकरी के मुकाबले जल्दी हो जाता है।

सरकारी नौकरी के फायदे | Benefits of Sarkari Naukri

दोस्तों वैसे तो सरकारी नौकरी के अनगिनत फायदे हैं लेकिन चलिए हम आपको सरकारी नौकरी के कुछ प्रमुख फायदे के बारे में बताते हैं।

  • सरकारी नौकरी का सबसे पहला फायदा यह है कि इसमें जॉब सिक्योरिटी होती है यानी कि इसमें हमारी काम की गारंटी होती है हमें आसानी से कोई हमारी नौकरी से नहीं निकाल सकता जो कि प्राइवेट सेक्टर के नौकरी में बिल्कुल नहीं होता है।
  • सरकारी नौकरी में बड़े-बड़े पोस्ट जैसे कि आईएएस आईपीएस के अधिकारियों को काफी ज्यादा सम्मान मिलता है।
  • सरकारी नौकरी में बहुत सारे पदों पर काम करने वाले अधिकारियों को रहने के लिए एक घर उसके साथ ही कई सारी मेडिकल की सुविधाएं भी मुफ्त में मिलती है।
  • सरकारी नौकरी में हर महीने के आखिरी में हमारी सैलरी आ जाती है।
  • सरकारी नौकरी का एक सबसे बड़ा फायदा यह भी है कि इसमें हमें रिटायरमेंट के बाद भी जीवन के अंतिम पल तक पेंशन मिलता है और एक अच्छी खासी रिटायरमेंट भत्ता भी मिलता है।

प्राइवेट नौकरी के फायदे | Benefits of Private Naukri

दोस्तों चलिए आपको प्राइवेट नौकरी के कुछ प्रमुख फायदे के बारे में बताते हैं।

  • प्राइवेट नौकरी में सरकारी नौकरी के मुकाबले प्रमोशन मिला काफी आसान होता है और इसमें आपका नॉलेज भी दिन-ब-दिन नए-नए लोगों के साथ मिलकर बढ़ता है।
  • प्राइवेट नौकरी में सरकारी नौकरी के मुकाबले परीक्षाएं की लेवल कम होती है और आपको इसमें आपके नॉलेज के मुताबिक जल्दी नौकरी मिल सकती है।
  • प्राइवेट नौकरी में वर्क एनवायरमेंट काफी ज्यादा अच्छा होता है और इसमें आप नए नए लोगों के साथ मिलकर काम कर सकते है।
  • दोस्तों प्राइवेट नौकरी में आप जब चाहे अपनी सैलरी बढ़ाने के लिए दूसरी कंपनी में जा सकते हैं और आपको इसमें पहले कंपनी के मुकाबले दूसरी कंपनी में ज्यादा सैलरी भी मिल सकती है।
  • प्राइवेट नौकरी में आप दूसरे देश में भी जाकर अच्छे पैसे कमा सकते हैं।

सरकारी और प्राइवेट नौकरी में कौन अच्छा है? Sarkari and Private Job 2022

दोस्तों वैसे तो सरकारी और प्राइवेट नौकरी दोनों के अपने अलग-अलग फायदे और अलग-अलग नुकसान भी है इसलिए यह बोल पाना की सरकारी और प्राइवेट नौकरी में कौन ज्यादा अच्छा है मुश्किल है।

फिर भी सरकारी और प्राइवेट नौकरी में मिलने वाली सुविधाओं की बात करें तो सरकारी नौकरी में ज्यादा होती है क्योंकि इसमें हमारी जॉब सिक्योरिटी होती है यही कारण है कि आज भी बहुत सारे लोग सरकारी नौकरी की तरफ आकर्षित होते हैं। आज लोग सरकारी नौकरी की तैयारी के लिए 5-5 साल तक तैयारी करते है। इस प्रकार हम कह सकते हैं कि सरकारी नौकरी कहीं ना कहीं प्राइवेट नौकरी से ज्यादा अच्छा होता है।

Sarkari Naukri Vs Private Job [Video]

Conclusion

दोस्तों आज का हमारा है यह आर्टिकल सरकारी और प्राइवेट नौकरी के बीच अंतर विषय के ऊपर केंद्रित था। आज article में हमने आपको बताया कि Sarkari aur Private Naukri Ke Bich Antar, सरकारी नौकरी और प्राइवेट नौकरी के क्या-क्या अलग-अलग फायदे होते हैं। आगे इस आर्टिकल में हमने आपको यह भी बताया कि सरकारी और प्राइवेट नौकरी में कौन ज्यादा अच्छा होता है।

हमें पूरी उम्मीद है कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा और आप इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करेंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top